कॉम्प्लेक्स की सीलिंग हटाई गई तो होगी सख्त कार्यवाही!

खजाना मार्केट चौराहे पर कॉम्प्लेक्स सीलिंग का मामला

कॉम्प्लेक्स की सीलिंग हटाई गई तो होगी सख्त कार्यवाही!
खबर का असर

लखनऊ। आशियाना के खजाना मार्केट के पास कॉम्प्लेक्स सीलिंग की खबर का बड़ा असर हुआ है। प्रवर्तन दल के एक अधिकारी ने कहा कि यदि सील किए गए कॉम्प्लेक्स की सीलिंग तोड़ी गई तो कॉम्प्लेक्स मालिक के खिलाफ सख्त कार्यवाही की जाएगी। आवश्यकता पड़ी तो एफआईआर दर्ज कराई जाएगी। उन्होंने कहा बगैर आदेश के सीलिंग हटाना अपराध की श्रेणी में आता है। सरकारी कार्य में बाद उत्पन्न करने के लिए मुकदमा दर्ज कराया जाएगा। 

गौरतलब है कि प्राधिकरण की कानपुर रोड योजना के तहत आशियाना के खजाना मार्केट चौराहे का है। बंगला बाजार पुलिस चौकी से आशियाना जाने पर खजाना मार्केट चौराहे पर बाएं ओर एक विशालकाय कॉम्प्लेक्स का निर्माण हुआ है। चार मंजिला कॉम्प्लेक्स के ग्राउंड फ्लोर पर गोदाम और करीब आधा दर्जन दुकानें बनी हुई है। प्रथम और दूसरे तल पर कपड़ो का शो रूम और चौथे तल पर जिम खोला गया है। बताया गया है कि बीते दिनों कॉम्प्लेक्स के पहले और दूसरे तल पर बने कपड़े के शो रूम में आग लग गई थी। आग की चपेट में आने से शो रूम में रखा लाखो रुपए का सामान जलकर राख हो गया था। कुछ दिनों तक शो रूम बंद रहने के बाद इसका पुनर्निर्माण (रिनोवेशन) का काम चल रहा था।

आवासीय भूखंडों पर बन रहे व्यवसायिक कॉम्प्लेक्स

आशियाना क्षेत्र में आवासीय भूखंडों पर व्यवसायिक कॉम्प्लेक्स बनाने का काम धड़ल्ले से चल रहा है। एलडीए अधिकारियों की मिली भगत से बंगला बाजार पुलिस चौकी से खजाना मार्केट चौराहा और खजाना मार्केट चौराहे से आशियाना चौराहे के मुख्य मार्ग के दोनो ओर आवासीय भूखंडों पर व्यवसायिक कॉम्प्लेक्स का निर्माण कार्य जोरशोर से चल रहा है। इन कॉम्प्लेक्स से आवासीय लोगो को तमाम तरह की दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। दिलचस्प बात यह है कि कई सील कॉम्प्लेक्सो में भी चोरी छिपे काम चल रहा है।

इस दौरान कॉम्प्लेक्स मालिक ने शो रूम के दायरे को सड़क की ओर बढ़ाकर बना दिया। अनाधिकृत तरीके से बने इस कॉम्प्लेक्स के शो रूम का एरिया बढ़ने के सूचना विकास प्राधिकरण के अधिकारियों को हुई। विकास प्राधिकरण के प्रवर्तन दल की टीम ने बीती 10 अप्रैल को हो रहे निर्माण को अवैध बताते हुए सीलिंग की कार्यवाही कर दी। कार्यवाही को हुए अभी एक पखवाड़ा भी नहीं बीत पाया था कि कॉम्प्लेक्स के मालिक ने कॉम्प्लेक्स में लगाई गई सीलिंग को हटाने के साथ प्रवर्तन दल के सीलिंग को लेकर लिखे गए डिटेल को भी पेंट करवाकर हटा दिया। इसके बाद सील कॉम्प्लेक्स में बने जिम और कुछ दुकानों को भी खुलवा दी गई। 

इस संबंध में जब विकास प्राधिकरण प्रवर्तन दल के प्रभारी देवांस त्रिवेदी से बातचीत गई तो उन्होंने कहा इसकी जानकारी जोन के प्रवर्तन दल के अवर अभियंता से प्राप्त कर सकते है। अवर अभियंता प्रमोद पांडे ने कॉम्प्लेक्स सील करने की बात स्वीकार करते हुए बताया कि यदि सीलिंग हटाई गई तो दोषियों के खिलाफ सख्त कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने बताया कि सीलिंग खोलने का कोई आदेश नहीं हुआ है।